फिलहाल कोई नहीं रहेगा गरीब

बीपीएल कार्ड निरस्त कर रही प्रदेश सरकार
जबलपुर, विशेष संवाददाता। ऐसी घपलेबाजी कि मुख्यमंत्री भी चौंक गए। राज्य की 70 फीसद से अधिक आबादी गरीबी रेखा के नीचे जी रही है। इसमें पैसे वाले भी शामिल हैं। सूत्र कहते हैं कि गरीबी रेखा के सभी कार्ड प्रदेश सरकार निरस्त करने जा रही है। कैबिनेट में इसका फैसला हो चुका है। खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इसकी मानीटरिंग कर रहे हैं। उन्होंने अफसरों की एक समिति भी बनाई है। दरअसल यह घोटाला तब उजागर हुआ जब प्रधानमंत्री आवास योजना के सभी आवेदन की गहराई से छानबीन की गई। इससे यह उजागर हुआ कि ज्यादातर गरीबी रेखा का कार्ड रखने वाले फर्जी हैं। यह एक दो नहीं बल्कि राज्य के सभी जिलों में हुआ। टोटल आंकड़ा 73 प्रतिशत का है यानि राज्य की दो तिहाई आबादी हर तरह से गरीब है। अब इसके लिए एक नया साफ्टवेयर बनवाया जा रहा है। उसी के आधार पर वार्ड वार सर्वे कराया जाएगा। कुछ एनजीओ को भी यह काम दिया जा सकता है। संभव एक जून या उसके बाद नया सर्वे शुरू हो सकता है। कुल मिलाकर लोगों ने यहां वहां पैसे खिलाकर गरीबी रेखा का कार्ड बनवा लिए। मोटर साइकिल, मोबाइल, टीवी और खुद का घर रखने वाले भी गरीब हो गए। जबलपुर में भी हजारों फर्जी कार्ड हैं जिन्हें निरस्त करने की तैयारी प्रशासन कर रहा है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*